16 March 2012

तेरा बीछडना..

. . .

मीलने के बाद तेरा बीछड जाना आज भी नही भुला है दर्शित,
दिन तो वो अच्छे थे जब सपनेमें ही मुलाकाते होती रहेती थी..

. . .
Post a Comment